" /> संपादक के नाम पत्र

संपादक के नाम पत्र

साफ-सफाई पर ध्यान दिया जाए
मैं ‘दोपहर का सामना’ के माध्यम से मीरा-भायंदर महानगर पालिका के आयुक्त डॉ. विजय राठोड और स्वास्थ्य विभाग के उपायुक्त संभाजी पानपट्टे का ध्यान इस तरफ दिलाना चाहता हूं कि मीरा-भायंदर शहर के अधिकांश इंडस्ट्रियल परिसरों में जगह-जगह कचरे का अंबार लगा रहता है। छोटी-छोटी नालियों का गंदा पानी भरकर बाहर की तरफ बहते रहता है, जिससे गंदगी फैलती है। जिससे कारखानों में काम करनेवाले कारीगरों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। इतना ही नहीं तो गीला कचरा ढोनेवाली गाड़ियों से कचरा सड़कों पर गिरता रहता है। भायंदर-पूर्व के काशी नगर, क्वीन्स पार्क, इंद्रलोक आदि परिसरों में कचरा नहीं उठाए जाने के कारण जगह-जगह कचरे का अंबार लगा रहता है, जिससे मच्छरों की संख्या में निरंतर वृद्धि हो रही है। वर्तमान में कोरोना महामारी के संक्रमण के कारण स्वच्छता पर विषेध ध्यान देने की भी आवश्यकता है। अत: शहर की साफ-सफाई पर ध्यान दिया जाए।
-सुबोध मिश्रा (कोषाध्यक्ष- भारतीय स्टील बफिंग ऑपरेटर एसोसिएशन)

एयरटेल के नहीं मिलते नेटवर्क
मैं सम्मानित समाचार पत्र ‘दोपहर का सामना’ के माध्यम से एयरटेल टेलीकॉम कंपनी का ध्यान दिलाना चाहता हूं कि मथुरा शहर के कुछ इलाकों में एयरटेल का नेटवर्क इतना खराब हैं कि लोग आजिज आ चुके हैं। कई महीनों से एयरटेल के नेटवर्क काफी खराब स्थिति में हैं कि लोगों ने एयरटेल के अपने नंबर अन्य कंपनियों में पोर्ट करवा लिए हैं। अगर नेटवर्क की यही स्थिति रही तो वो दिन दूर नहीं जब लोग एयरटेल की सर्विस को अलविदा बोल दें। दिनभर एयरटेल का नेटवर्क इतना स्लो रहता है कि लोग परेशान हो जाते है मगर रात ११ बजे के बाद ही कुछ स्पीड आती है। भरतपुर गेट से लेकर चौक बाजार तक इसके नेटवर्क काफी खराब स्थिति में है। एयरटेल गैलरी वाले बोलते हैं कि यहां टॉवर न होने के कारण ऐसा हो रहा है। मेरा एयरटेल से निवेदन है कि उक्त स्थान पर जल्द टॉवर लगाकर स्थिति को कंट्रोल करें अन्यथा ग्राहकों की इतनी कमी हो जाएगी कि कंपनी बंद होने की कगार पर पहुंच जाएगी।
-गणेश कुमार, लाला गंज, मथुरा, यूपी